verbal-spat-black

तर्क-वितर्क, आरोप-प्रत्यारोप, बहस और तकरार हमेशा से भारतीय राजनीति का अटूट हिस्सा रहे हैं। इसके बिना राजनीति की कल्पना भी शायद नहीं की जा सकती।

Read More